PM Jan Dhan Yojana: जन धन योजना वालों के खाते में आ गए 10,000 रूपये, यहाँ से Status चेक करें

PM Jan Dhan Yojana: प्रधानमंत्री जनधन योजना का शुभारंभ हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा वर्ष 2014 में किया गया था। प्रधानमंत्री जनधन योजना को राष्ट्रीय स्तर पर लागू किया गया था जिसके अंतर्गत देश भर के लाखों व्यक्तियों को लाभ प्रदान करने का प्रयास किया गया है जिसमें अगर आप योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आप सभी के लिए हमारे पेज के माध्यम से PM Jan Dhan Yojana से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान की जा रही है।

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत देश भर के लाखों व्यक्तियों के लिए बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास किया गया है जिसके तहत अगर आप भी किसी भी प्रकार के बैंक में खाता धारक नहीं आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा है तो आपके लिए यह जानकारी काफी महत्वपूर्ण हो सकती है क्योंकि सरकार द्वारा कई सारी योजनाएं बैंक खाते की सहायता से ही लागू की जाती है जिसके लिए आपके पास बैंक पासबुक होना आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा आवश्यक होता है जिसे सरकार द्वारा बिना किसी शुल्क के उपलब्ध कराया जा रहा है।

PM Jan Dhan Yojana

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा योजना को राष्ट्रीय स्तर पर शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत देशभर के सभी श्रेणी के नागरिक आवेदन कर सकते हैं जिसके पश्चात जीरो बैलेंस अकाउंट आपके लिए प्राप्त हो जाएगा जिसमें आपके लिए कई सारी बैंक के प्रदान किए गए हैं जहां पर आप अपनी नजदीकी शाखा के अनुसार खाता खुलवाने हेतु आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। जनधन का यह खाता आपके लिए कई सारी योजनाओं का उपहार लेकर आएगा, जिसमें आपके लिए प्रतिमाह ₹10000 की लिमिट और जमा राशि पर ब्याज भी प्रदान किया जाएगा।

खाते में जमा राशि आप कितनी भी रख सकते हैं एवं न्यूनतम राशि जीरो रख सकते हैं, साथ ही PM Jan Dhan Yojana के तहत आपके लिए ₹100000 का बीमा भी प्रदान किया जाएगा जिससे दुर्घटना होने पर आप क्लेम कर सकते हैं। अगर आप भी इस प्रकार का खाता खुलवाना चाहते हैं तो हमारे पेज पर बनी रहे जिसके माध्यम से आपके लिए PM Jan Dhan Yojana से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्रदान की जा रही है |

PM Jan Dhan Yojana – Overview

योजना का नाम प्रधानमंत्री जन धन योजना
कब शुरू हुई अगस्त 2014
किसकी योजना है। केंद्र सरकार की।
किस मंत्रालय के अधीन है। मिनिस्ट्री ऑफ़ फाइनेंस।
लाभार्थी भारतीय नागरिक।
अब तक खुले बचत खाते 42.37 करोड़ खाते।
आधिकारिक वेबसाइट https://pmjdy.gov.in/
प्रधानमंत्री जन धन योजना टोल फ्री नंबर1800110001, 18001801111

प्रधानमंत्री जन धन योजना क्या है?

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सरकार में आने पर योजनाओं का शुभारंभ किया गया जिसके अंतर्गत सबसे पहले भारत सरकार द्वारा सभी गरीबों के लिए योजनाओं का लाभ प्रदान करने हेतु बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराई गई ताकि कोई भी व्यक्ति बैंकिंग सुविधा से वंचित ना रहे। भारत सरकार द्वारा देश भर के लाखों व्यक्तियों के लिए बैंक खाते प्रदान किए जा रहे हैं जिसके लिए आपको किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं देना होगा जिसे आप अपने नजदीकी बैंक शाखा में जाकर आवेदन करते हुए प्राप्त कर सकते हैं जिसके पश्चात आपके लिए सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त होगा।

प्रधानमंत्री जन धन योजना हेतु पात्रता

  • PM Jan Dhan Yojana में देशभर के सभी श्रेणी के नागरिक ऑनलाइन माध्यम से आवेदन को जमा कर सकते हैं।
  • आवेदक की आयु 10 वर्ष से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • जन धन योजना में हर श्रेणी के महिला एवं पुरुष इस योजना हेतु आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • देशभर के सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों में जाकर आपके लिए आवेदन के अनुसार बैंक खाता प्राप्त होगा।

प्रधानमंत्री जन धन योजना के लाभ

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा PM Jan Dhan Yojana का शुभारंभ राष्ट्रीय स्तर पर किया गया है जिसके अंतर्गत सभी देश भर के नागरिक योजना हेतु आवेदन कर सकते हैं।
  • जन धन योजना का खाता जीरो बैलेंस से खुलता है जिसके लिए आपको किसी प्रकार का शुल्क नहीं देना होता है।
  • जनधन खाते में आपके लिए कोई भी राशि जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी क्योंकि यह जीरो बैलेंस खाता होगा जिसमें आपके लिए जमा राशि पर ब्याज प्राप्त होगा।
  • सरकार द्वारा प्रतिवर्ष सहायता राशि भी प्रदान की जाती है।
  • जनधन खाते की सहायता से आपके लिए दुर्घटना होने पर ₹100000 का बीमा कबर भी दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री जनधन योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

PM Jan Dhan Yojana में आवेदन हेतु आपके पास नीचे दिए गए निम्न दस्तावेजों का होना आवश्यक है-

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • नॉमिनी की जानकारी
  • पासपोर्ट साइज फोटो (२)
  • आवेदक के हस्ताक्षर

How to apply for PM Jan Dhan Yojana?

  • सबसे पहले जन धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmjdy.gov.in/ पर जाएं
  • होम पेज पर “आवेदन फॉर्म” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आप आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं जिसके पश्चात उसका प्रिंट निकाल ले।
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गई समस्त जानकारी का विवरण दर्ज करें और उसमें दस्तावेज संलग्न करें।
  • आवेदन को नजदीकी राष्ट्रीय कृत बैंक में लेकर जाएं और उसे जमा कर दें।
  • अब आपके आवेदन की पुष्टि बैंक के द्वारा की जाएगी और आपके लिए बैंक का पासबुक दी जाएगी जिसकी सहायता से आप बैंकिंग सुविधाओं का लाभ ले पाएंगे।

Q1. प्रधानमंत्री जन धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

प्रधानमंत्री जन धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट है
www.pmjdy.gov.in

Q2. प्रधानमंत्री जनधन योजना हेतु कौन आवेदन कर सकता है?

Ans. प्रधानमंत्री जनधन योजना हेतु देशभर के सभी गरीब श्रेणी के नागरिक आवेदन कर सकते हैं।

PPF अकाउंट के हैं बड़े फायदे, छोटी बचत पर मिलेगा बंपर रिटर्न, निवेश से पहले जानें अहम बातें

डिंपल अलावाधी

PPF Account Interest Rate 2021-22, Tax Benefits: जो लोग निवेश में जोखिम लेने से कतराते हैं, उनके लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) बेहतरीन विकल्प है। इसमें टैक्स की छूट मिलती है और साथ ही पीपीएफ जमा राशि पर आप लोन भी ले सकते हैं।

PPF Account Interest Rate 2021-22, Tax Benefits

  • पीपीएफ सबसे पसंदीदा टैक्‍स सेविंग विकल्‍पों में से एक है।
  • पीपीएफ के तहत एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 500 रुपये का निवेश करना होता है।
  • PPF अकाउंट 15 साल में मैच्योर होता है। आप इसकी अवधि बढ़ा भी सकते हैं।

PPF Account Interest Rate 2021-22, Tax Benefits: पब्लिक प्रोविडेंट फंड या PPF उन छोटी बचत योजनाओं (small saving schemes) में से एक है जिसके तहत बिना किसी जोखिम के सुनिश्चित रिटर्न मिलता है। इसकी सबसे खास बात यह है कि इसमें मिलने वाला रिटर्न आयकर (Income Tax) से मुक्त है।

पीपीएफ खाता खोलने के तीसरे और छठे वित्तीय वर्ष के बीच पीपीएफ खाते से लोन भी लिया जा सकता है। वहीं सातवें वर्ष से पीपीएफ से आंशिक निकासी की सुविधा भी मिलती है। इतना ही नहीं, पीपीएफ खाताधारक के पास पांच साल पूरे करने के बाद समय से पहले खाता बंद करने का विकल्प भी होता है।

ब्याज दर सुनिश्चित है, लेकिन निश्चित नहीं
पीपीएफ पर दी जाने वाली ब्याज दर (PPF Interest rate) तय नहीं होती है, लेकिन यह 10 साल के सरकारी बॉन्ड यील्ड से जुड़ी है। दर हर दिन नहीं बदलती है, लेकिन पिछले तीन महीनों में औसत बॉन्ड यील्ड के आधार पर तिमाही की शुरुआत में तय की जाती है।

बढ़ाई जा सकती है अवधि
PPF अकाउंट 15 साल में मैच्योर होता है। खाता मैच्योर होने के बाद आप या तो पूरी शेष राशि निकाल सकते हैं और खाते को बंद कर सकते हैं, या इसे बिना योगदान के पांच साल तक बढ़ा भी सकते हैं। पांच साल के ब्लॉक में विस्तार अनिश्चितकाल के लिए किया जा सकता है।

न्यूनतम जमा (Minimum deposit)
इसके तहत एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1,50,000 रुपये के निवेश की अनुमति है।

ब्याज की गणना (Interest calculation)
पीपीएफ खाते में ब्याज की गणना अलग होती है। ब्याज दर की गणना महीने के 5वें और आखिरी दिन के बीच न्यूनतम शेष राशि पर की जाती है। इसलिए, अपनी कमाई को बढ़ाने के लिए आपको महीने की पहली और पांचवीं तारीख के बीच जमा करना चाहिए। ब्याज वार्षिक रूप से संयोजित होता है और हर साल 31 मार्च को जमा किया जाता है।

समय से पहले निकासी (Premature withdrawal)
केवल मैच्योरिटी पर ही आप अपने खाते से पूरी राशि निकाल सकते हैं। हालांकि, वित्तीय संकट के समय में कुछ सीमाओं के अधीन आंशिक निकासी की अनुमति मिलती है। 7वें वर्ष के बाद से आप वर्ष में एक बार निकासी कर सकते हैं। केवल मृत्यु के मामले में पीपीएफ खाते को समय से पहले बंद किया जा सकता है।

कर लाभ (Tax benefits)
ब्याज सहित पूरी परिपक्वता राशि गैर-कर योग्य है। योजना के तहत अर्जित ब्याज कर मुक्त है। साथ ही पीपीएफ जमा को वेल्थ टैक्स (wealth tax) से छूट दी गई है।

पीपीएफ से लोन (loan from your PPF)
आप पीपीएफ जमा राशि पर कुछ नियमों और शर्तों के अधीन लोन भी ले सकते हैं। तीसरे साल से छठे साल तक आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा लोन लिया जा सकता है। इसे 24 महीनों के भीतर चुकाना होता है। ध्यान दें कि निष्क्रिय खाते या बंद किए गए खाते लोन के लिए पात्र नहीं हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा

उत्तर : जी नहीं, नियोक्ता एवं वेतन के बगैर कोई वसूली नहीं की जा सकती। सदस्य द्वारा किया गया कोई भी अंशदान नियोक्ता के अंशदान के समतुल्य होना चाहिए।

7 - कर्मचारी के वेतन से काटे गए अंशदान को तथा क.भ.नि. को भुगतान नहीं किए जाने के संबंध में गैर भुगतान से सदस्य को किस प्रकार सूचित किया जाता है?

उत्तर : वार्षिक भ.नि. खाता विवरणी / सदस्य पासबुक, नियोक्ता द्वारा भुगतान की गई राशि का विवरण देता है। इस प्रकार, सदस्यों को वर्ष में चूक की अवधि का पता चलता है। वर्तमान परिदृश्य में, यदि सदस्य ने अपने यूएएन को सक्रिय किया है तो अंशदान का गैर-भुगतान / भुगतान, ई-पासबुक के माध्यम से हर महीने सत्यापित किया जा सकता है। वर्तमान में, सदस्य अपने भ.नि. खाते में मासिक अंशदान के जमा होने पर अपने पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस भी प्राप्त करते हैं।

8 - भविष्य निधि राशि यदि 20 दिन के भीतर प्राप्त नहीं होती है तो मामले को किसके समक्ष प्रस्तुत किया जाना चाहिए।

उत्तर : वह क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त, प्रभारी शिकायत से संपर्क कर सकता है, फॉर एंप्लाइज’ सेक्शन में ईपीएफआईजीएमएस सुविधा का लाभ उठाते हुए वेबसाइट पर शिकायत दर्ज कर सकता है। शिकायत पृष्ठ के लिए यूआरएल है : https://epfigms.gov.in/ अथवा प्रत्येक माह की 10 तारीख को आयोजित ‘निधि आप के निकट’ में वह आयुक्त के समक्ष उपस्थित हो सकता है।

9 - क्या भविष्य निधि देय राशि की निकासी की कोई समय-सीमा है?

उत्तर : केवल सेवा से त्यागपत्र (आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा सेवानिवृत्ति नहीं) के मामले में सदस्य को भविष्य निधि की राशि की निकासी के लिए दो माह की अवधि तक प्रतीक्षा करनी होती है।

10 - जब नियोक्ता दावा प्रपत्र को सत्यापित न कर रहा हो तो भविष्य निधि की निकासी के लिए आवेदन कैसे प्रस्तुत किया जा सकता

उत्तर : आवेदन फार्म को सत्यापित करना नियोक्ता का कर्तव्य है। किसी प्रकार के विवाद के मामले में सदस्य उस बैंक जिसमें उसका खाता है, नियोक्ता से सत्यापन न कराने के कारण बताते हुए, इसे क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त को प्रस्तुत कर सकता है। क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त आवश्यकतानुसार नियोक्ता के साथ मामला उठाएगा। यदि सदस्य ने अपना यूनिवर्सल खाता संख्या सक्रिय किया है और अपने बैंक खाते और आधार को लिंक किया है तो वह कंपोजिट फॉर्म (आधार) प्रस्तुत कर सकता है जिसमें केवल सदस्य के हस्ताक्षर आवश्यक होते हैं।

11 - क्या नौकरी बदलने पर सदस्य अपने भविष्य निधि को अंतरित करा सकता है ?

उत्तर : नौकरी बदलने पर, सदस्य को फार्म 13 (आर) प्रस्तुत कर निश्चित रूप से अपनी वर्तमान स्थापना में अपना भविष्य निधि खाता अंतरित करना चाहिए। एकीकृत पोर्टल पर सदस्य इंटरफेस को प्रयोग में लाते हुए सदस्य अंतरण का दावा प्रस्तुत कर सकता है।

12 - भ.नि. अंशदाताओं के लिए ब्याज आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा क्रेडिट की विधि क्या है?

उत्तर : प्रत्येक वर्ष के लिए घोषित वैधानिक दर पर मासिक चालू शेष के आधार पर चक्रवृद्धि ब्याज जमा कर दिया जाता है। वर्ष 2016-17 के लिए घोषित ब्याज 8.65% है।

आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा

सुकन्या समृद्धि योजना: मात्र 35 रुपए जमा कर बेटी के लिए बचाएं 5 लाख! 👉🏻 अगर आप अपनी बेटी की पढ़ाई और शादी के लिए पैसे बचाना चाहते हैं और किसी सरकारी योजना में निवेश करने का प्लान बना रहे हैं, तो सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना एक बेहतर विकल्प है। आप इस योजना के तहत सालाना 12 हजार रुपए का निवेश कर रहे हैं और लगभग 5 लाख रुपए जोड़ सकते हैं। इसका मतलब यह है कि यदि आप रोजाना अपनी बेटी के लिए लगभग 35 रुपए बचाते हैं, तो आप 5 लाख का फंड तैयार कर सकते हैं। बता दें कि इस योजना में 14 साल तक पैसा निवेश करना होता है, तो आइए आपको सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ी कुछ ज़रूरी जानकारी देते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना क्या है? 👉🏻 इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति या कानूनी अभिभावक 10 साल से कम उम्र की बेटियों के लिए खाता खुलवा सकता है। यह किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में आसानी से खुलवा सकते हैं। बता दें कि इस योजना में 1 अक्टूबर 2020 से 7.60 प्रतिशत सालाना चक्रवृद्धि ब्याज मिल रही है, तो वहीं बैंकों और पोस्ट ऑफिस की ब्याज दरें अलग-अलग हैं। यह योजना बेटियों के अजवल भविष्य के लिए लागू की गई है। जब निवेश पूरा हो जाता है, तो पूरा फंड उस लड़की को मिलेगा, जिसके नाम पर खाता खोला गया है। केवल 250 रुपए से शुरू करें निवेश 👉🏻 इस योजना में सालाना न्यूनतम 250 रुपए जमा करना होता है। पहले सालाना 1 हजार रुपए निवेश की योग्यता थी। इस योजना के तहत अधिकतम 1.50 लाख रुपये सालाना निवेश किया जा सकता है। 21 साल बाद मिलेगा पैसा 👉🏻 यदि आप इस योजना के तहत खाता खुलवाते हैं, तो 14 साल पूरा होने तक निवेश करना होगा। ध्यान रहे कि यह खाता 21 साल पूरा होने पर मेच्योर होता है। जैसे ही खाते हैं 14 साल पूरे हो जाएंगे, उसके बाद 21 साल तक खाते में तय ब्याज दर के हिसाब से पैसा जुड़ता रहेगा। 1 हजार जमा करने पर मिल 5 लाख रुपये देगी 👉🏻 अगर आप सालाना 20 हजार रुपए जमा करते हैं, तो आप 14 साल तक सालाना 2,80,000 रुपए जमा करेंगे, फिर 21 साल बाद मेच्योर होने पर 9,36,429 लाख मिल जाएगी इसका मतलब है कि इस तरह आपका लगभग 10 लाख का फंड बन जाएगा। । इसके अलावा रोजाना 35 रुपए यानी महीने में करीब 1 हजार रुपए देते हैं, तो सालाना 12 हजार रुपए हो जाएंगे। बता दें कि इस तरह मैच्योरिटी पर 5 लाख रुपए से ज्यादा मिल जाएंगे। मासिक किस्त (रुपए में) 14 साल में निवेश (रुपए में) 21 साल बाद मेच्योरिटी पर मिलेगा (रुपए में) 1000 1,68,000 5,42,122 2000 3,36,000 10,84,243 3000 5,04,000 16,26,365 4000 6,72,000 21,68,486 5000 8,40,000 27,10,608 6000 10,08,000 32,52,730 7000 11,76,000 37,94,851 8000 13,44,000 43,36,973 9000 15,12,000 48,79,095 10000 16,80,000 54,21,216 12500 21,00,000 67,76,520 बेटी की उम्र 18 साल होने पर निकाल सकते हैं पैसा 👉🏻 जब आपकी बेटी की उम्र 18 साल हो जाएगी, तो उसकी पढ़ाई या शादी के लिए जमा राशि का 50 प्रतिशता तक खाने से निकाल दिया जा सकता है। ऐसे खुलवाएं खाता 👉🏻 यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाना चाहते हैं, तो अपने किसी भी निकटतम पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं। इसके अलावा यह खाता किसी भी प्राथमिक या सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक में भी खुलवा सकता है। स्रोत:- Agrostar, 5 Dec. 2020, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।

SBI RD Account Scheme : SBI की इस योजना में प्रति माह 1000 रु जमा करे और 1.59 लाख रु प्राप्त करे

SBI RD Account Scheme : भारत का सबसे बड़ा साहूकार स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank Of India ) हाल ही में आम लोगों के लिए निश्चित राशि के नियमित मासिक जमा के माध्यम से पैसे बचाने के लिए एक नई योजना लेकर आया है ! इसके अलावा, आपको पता होना चाहिए ! कि आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) एक व्यक्ति को छोटी बचत के माध्यम से काफी पैसा बचाने में मदद करता है ! जो की यह योजना ( SBI RD Scheme ) निश्चित रिटर्न के साथ एक जोखिम मुक्त निवेश है !

SBI RD Account Scheme

SBI RD Account Scheme

SBI RD Account Scheme

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank Of India ) या एसबीआई अपने ग्राहकों को आकर्षक आरडी ब्याज दरों की पेशकश करता है ! जिसमें न्यूनतम जमा राशि केवल रु. 100. एसबीआई ग्राहक के वित्तीय लक्ष्यों के आधार पर 7 दिनों से 10 साल की अवधि के लिए आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) खाता खोलने की अनुमति देता है ! रुपये से कम जमा पर बैंक द्वारा दी जाने वाली एसबीआई आवर्ती जमा ( SBI RD Scheme ) ब्याज दरें ! 2 करोड़ 4.50% और 6.25% है ! वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य ब्याज दरों पर 0.50% के आपको अपनी न्यूनतम जमा राशि के लिए क्या मिलेगा अतिरिक्त ब्याज ( RD Interest Rate ) की पेशकश की जाती है ! बैंक द्वारा दिए जाने वाले ब्याज के बारे में अधिक जानने के लिए नीचे स्क्रॉल करें !

SBI RD Scheme Interest Rate

  • SBI आरडी योजना ( SBI RD Scheme ) में खाता खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम जमा रुपये है !
  • एसबीआई में आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) खाते की अवधि 1 वर्ष से 10 वर्ष तक होती है !
  • वरिष्ठ नागरिक सामान्य नागरिकों को दी जाने वाली नियमित ब्याज दर ( RD Interest Rate ) पर 0.50% की अतिरिक्त ब्याज दर का लाभ उठा सकते है !
  • नामांकन सुविधा उपलब्ध है ताकि आप अपनी परिपक्वता राशि लेने के लिए किसी को नामित कर सके !
  • SBI ( State Bank Of India ) जमा राशि पर लोन लेने की सुविधा देता है ! RD बैलेंस का 90% लोन राशि के रूप में प्राप्त किया जा सकता है
  • आरडी पर टीडीएस कटौती लागू है और खाता खोलते समय मौजूदा आयकर नियमों के अधीन है
  • देर से भुगतान के मामले में, बैंक द्वारा जुर्माना लगाया जाता है जो है:
  • 5 वर्ष या उससे कम तक की अवधि – रु. 1.50 रु. 100 प्रति माह

State Bank Of India की शानदार स्कीम

एसबीआई की इस योजना ( SBI RD Scheme ) में 36, 60, 84 या 120 महीने की अवधि के लिए निवेश किया जा सकता है ! इस आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) में निवेश पर ब्याज की दर वही होगी ! जो चुनी गई अवधि के सावधि जमा के लिए है ! मान लीजिए कि आप SBI ( State Bank Of India ) में पांच साल के लिए फंड डिपॉजिट करते हैं ! तो आपको पांच साल के फिक्स्ड डिपॉजिट पर लागू ब्याज दर ( RD Interest Rate ) के हिसाब से ही ब्याज मिलेगा ! इस योजना का लाभ हर कोई उठा सकता है !

10,000 रुपये मासिक आय के लिए क्या करे : SBI RD Account Scheme

एसबीआई की इस योजना ( SBI RD Scheme ) में अगर कोई निवेशक हर महीने 10,000 रुपये की मासिक आय चाहता है ! तो उसे 5,07,964 रुपये जमा करने होंगे ! तो SBI ( State Bank Of India ) में जमा की गई रकम पर उसे 7 फीसदी की ब्याज दर ( RD Interest Rate ) से रिटर्न मिलेगा ! जो हर महीने करीब 10,000 रुपये होता है ! यदि आपके पास निवेश करने के लिए 5 लाख रुपये से अधिक है ! और आप भविष्य में अपनी आय बढ़ाना चाहते हैं ! तो यह आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) योजना आपके लिए एक बेहतर विकल्प है !

SBI RD Scheme में निवेश करना चाहते तो जान लें नियम

SBI वार्षिकी योजना ( SBI RD Scheme ) में हर महीने न्यूनतम 1,000 रुपये जमा किए जा सकते हैं ! इस आवर्ती जमा ( Recurring Deposit ) योजना में अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है ! SBI ( State Bank Of India ) में वार्षिकी भुगतान में ग्राहक द्वारा जमा की गई ! राशि पर एक निश्चित समय के बाद ब्याज ( RD Interest Rate ) मिलना शुरू हो जाता है ! ये योजनाएं भविष्य के लिए बहुत अच्छी हैं ! लेकिन मध्यम वर्ग के लिए एक साथ इतना पैसा जुटा पाना संभव नहीं है !

State Bank Of India RD Scheme

एसबीआई की इस योजना ( SBI RD Scheme ) में आम तौर पर मध्यम वर्ग के लोगों के पास एकमुश्त रकम नहीं होती है ! ऐसे में ज्यादातर लोग रेकरिंग डिपॉजिट ( Recurring Deposit ) में निवेश कर अपना भविष्य सुरक्षित कर लेते है ! आरडी में छोटी बचत के जरिए रकम जुटाई जाती है और फिर उस पर ब्याज ( RD Interest Rate ) लगाकर निवेशक को लौटा दी जाती है ! इस वजह से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( State Bank Of India ) की रेकरिंग डिपॉजिट को आम लोगों के बिच में काफी पसंद किया जाता है !

रेटिंग: 4.66
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 427