जेफ बेजोस ने एक बार कहा था कि एक सफल निवेशक होने के लिए एक स्पष्ट दर्शन और उस पर टिके रहना महत्वपूर्ण है। हर निवेशक दूसरे से अलग होता है। जबकि कई बाजार में सक्रिय व्यापार के साथ सहज हैं, अन्य व्यक्तिगत गति के साथ सहज हैं। निवेश करने से पहले किसी की गति को समझना महत्वपूर्ण है ताकि तर्कहीन निर्णय काम में न आएं।

कोरोना में वरदान बनी EPFO की ये खास सर्विस, पूरे परिवार को भारी संकट से उबारा

Station Guruji

रिपोर्टर पूरी बात बता रहे थे कि शिवकुमार में अपना पैसा वहां निवेश किया जहां उन्हें कुछ ज्यादा जानकारी नहीं थी। साथ ही गलत दोस्तों के साथ उन्होंने कई गलत आदतों को सीख ली। जिसके कारण उनका करोड़ रुपया बर्बाद हो गया और आज दूध बेचकर गुजारा कर रहे हैं।

दोस्तों यह महत्वपूर्ण है कि हम कितना कमाते हैं। इससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि हम कितना बचाते हैं और सबसे ज्यादा महत्व यह है कि हम उस बचाए हुए पैसे को कहां निवेश करते हैं।

भारतीय शिक्षा व्यवस्था की सबसे बड़ी दोष यह है कि यहां यह नहीं सिखाती है हमें पैसा किस प्रकार बचाकर और कहां का निवेश करना चाहिए। आपका प्रिय दोस्त अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं भी रूपए पैसे या निवेश संबंधी बातें आप से नहीं करता होगा।

कोई दोस्त जो किसी इंश्योरेंस कंपनी का एजेंट होगा तो जरूर आपसे इंश्योरेंस में निवेश करने का सलाह देता होगा। जिससे उनका मोटा कमीशन मिल सके। इसके अलावा कोई भी आपका दोस्त आपको निवेश पर चर्चा नहीं करता होगा।

निवेश कहां करें?

दोस्तों अमीर तो सभी बनना चाहते हैं। पैसे तो सभी कमाते हैं। एक व्यक्ति कर्ज में डूबा रहता है तो दूसरे इस प्रकार निवेश करते हैं उस पर पैसे की बारिश होती जाते हैं। आखिर क्या कारण है कि एक ही नौकरी, एक ही तनख्वाह, कोई तो करोड़पति बन जाता है और कोई दिवालिया। इसका मुख्य कारण है निवेश संबंधी ज्ञान।

मैं हमेशा इस बात पर जोर देता हूं कि हमारे पास जानकारी अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं होना अति आवश्यक है। पहले जमाने में जिसके पास जितनी ज्यादा जमीन होती थी उतनी ही ज्यादा कमाता था।

कुछ समय बाद उद्योग का जमाना आया। जिसके पास जितना उद्योग है वह उतना अमीर है। आज का समय ज्ञान का समय है। जिसके पास जितना ज्ञान है वह उतना कमाता है।

अपने माइंड को हमेशा ओपन रखें। दिन प्रतिदिन हर चीज बदल रही है। वह भी संचार क्रांति के बाद बहुत तेजी से बदल रहे हैं। हमें बदलते समय में अपने निवेश को हमेशा बदलते रहना चाहिए।

स्टेशन गुरुजी

मैं स्टेशन गुरुजी आपको अच्छी-अच्छी बातें बताता रहता हूं। चाहे वह पढ़ाई लिखाई संबंधीत हो या फिर अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं रुपए पैसे से संबंधित। आपको जब भी समय मिले दिन में 5 मिनट निकाल कर निवेश संबंधी ज्ञान लेते रहे।

गूगल पर जाए पैसे अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं रुपए संबंधी कोई भी सवाल पूछे उसके पीछे स्टेशन गुरुजी लिख दे या बोल दे। आपके सामने जानकारी आ जाएगी। आप उसे पढ़ सकते हैं।

Oxfam: आम आदमी से 10 लाख गुना ज्यादा ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन करता है अरबपति व्यक्ति, रिपोर्ट में दावा

ग्रीन हाउस गैस

दुनिया में ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को लेकर तमाम तरह की रिपोर्टें सामने आती रहती हैं लेकिन इस बार जो रिपोर्ट में खुलासा हुआ है वह बेहद चौकाने वाला है। दरअसल, ऑक्सफैम रिपोर्ट (Oxfam report) में दावा किया गया है कि दुनिया के सबसे 125 अमीर अरबपतियों के निवेश से सालाना औसतन 30 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन होता है, जो कि आम आदमी की तुलना में 10 लाख गुना अधिक है।

सीमेंट और जीवाश्म ईंधन उद्योग में निवेश सबसे बड़ा कारण
ऑक्सफैम रिपोर्ट में बताया गया है कि सुपर रिच लोगों की 183 कंपनियों में सामूहिक रूप से 2.4 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की हिस्सेदारी है। वहीं "कार्बन बिलियनेयर्स: द इन्वेस्टमेंट एमिशन्स ऑफ द वर्ल्ड्स रिचस्ट पीपल" शीर्षक वाली रिपोर्ट में कहा गया है कि जीवाश्म ईंधन और सीमेंट जैसे प्रदूषणकारी उद्योगों में इनका निवेश मानक कमजोर समूह वाली 500 कंपनियों के औसत से दोगुना है।

विस्तार

दुनिया में ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को लेकर तमाम तरह की रिपोर्टें सामने आती रहती हैं लेकिन इस बार जो रिपोर्ट में खुलासा हुआ है वह बेहद चौकाने वाला है। दरअसल, ऑक्सफैम रिपोर्ट (Oxfam report) में दावा किया गया है कि दुनिया के सबसे 125 अमीर अरबपतियों के निवेश से सालाना औसतन 30 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन होता है, जो कि आम आदमी की तुलना में 10 लाख गुना अधिक है।

सीमेंट और जीवाश्म ईंधन उद्योग में निवेश सबसे बड़ा कारण
ऑक्सफैम रिपोर्ट में बताया गया है कि सुपर रिच लोगों की 183 कंपनियों में सामूहिक रूप से 2.4 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की हिस्सेदारी है। वहीं "कार्बन बिलियनेयर्स: द इन्वेस्टमेंट एमिशन्स ऑफ द वर्ल्ड्स रिचस्ट पीपल" शीर्षक वाली रिपोर्ट में कहा गया है कि जीवाश्म ईंधन और सीमेंट जैसे प्रदूषणकारी उद्योगों में इनका निवेश मानक कमजोर समूह वाली 500 कंपनियों के औसत से दोगुना है।

अमीर बनना नहीं है कोई मुश्किल अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं काम, बस अपना लें दिग्गज निवेश गुरू के ये दो आसान मंत्र

अमीर बनना नहीं है कोई मुश्किल काम, बस अपना लें दिग्गज निवेश गुरू के ये दो आसान मंत्र

इस दुनिया में लगभग हर इंसान की कोशिश यही रहती है कि अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं वो अमीर बन जाए. इसके लिए वो दिन रात कड़ी मेहनत भी करते हैं, लेकिन सिर्फ कुछ लोग ही अमीर बनने का सपना पूरा कर पाते हैं. ऐसे में आपके सामने ये सवाल उठता होगा कि क्या मेहनत और अमीर बनने में कोई संबंध है या नहीं. आपके इस सवाल का जवाब दिग्गज निवेश गुरू वॉरेन बफेट के पास है. बफेट की माने तो अमीर बनना कोई मुश्किल काम नहीं है उनका कहना है कि सफलता के लिए मेहनत तो पड़ती है लेकिन अगर ये मेहनत सही दिशा में हो तो सफल होना आसान हो जाता है. अमीर बनने के लिए मेहनक को पड़ेगी लेकिन समझ के साथ उठाए गए कदम से इसमें मुश्किल नहीं आएगी . बफेट अपने अनुभव से आपको ऐसे दो मंत्र दे सकते हैं जो अमीर बनने के सपने को हकीकत में बदलने के लिए काफी मददगार साबित हो सकती है.

ये भी पढ़ें

RuPay क्रेडिट कार्ड से UPI करने पर लगेगा 2 फीसदी MDR, जानिए ये MDR क्या है और कैसे लगता है

RuPay क्रेडिट कार्ड से UPI करने पर लगेगा 2 फीसदी MDR, जानिए ये MDR क्या है और कैसे लगता है

Video: इन बेहद आसान स्टेप्स को फॉलो कर सिर्फ 5 मिनट में दाखिल करें इनकम टैक्स रिटर्न

Video: इन बेहद आसान स्टेप्स को फॉलो कर सिर्फ 5 मिनट में दाखिल करें इनकम टैक्स अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं रिटर्न

Top 10 Richest Indian Women: ये हैं देश की 10 सबसे धनी महिलाएं, फाल्गुनी नायर की संपत्ति में हुआ 963 प्रतिशत का इजाफा

अमेज़न के बारे में

अमेज़ॅन ने 175 को काम पर रखा,000 मार्च और अप्रैल 2020 के बीच एक महामारी के बीच श्रमिकों, इस प्रकार बेरोजगारों की मदद करना। अमेज़ॅन ने 2020 की पहली तिमाही में हैंड सैनिटाइज़र और गोदामों में अतिरिक्त हैंड-वाशिंग स्टेशन सहित सुरक्षा उपायों पर $800 मिलियन से अधिक खर्च किए।

1. संकट में अवसर खोजें

जब वित्तीय सफलता की बात आती है तो जेफ बेजोस वह व्यक्ति होते हैं, जिनकी ओर दुनिया देखती है। उसके साम्राज्य ने के तूफान को झेला हैकोरोनावाइरस वैश्विक महामारी। जहां विभिन्न बहु-राष्ट्रीय कंपनियों को अपने कर्मचारियों को बर्खास्त करते देखा गया, वहीं जेफ बेजोस ने नए कर्मचारियों को काम पर रखा। इससे बिक्री और कार्यप्रवाह में वृद्धि हुई जिसने निवेश को और अधिक आकर्षित किया। जबकि महामारी ने एक आर्थिकमंदी, जेफ बेजोस ने इसे बड़े पैमाने पर जनता की मदद अमीर लोग कहाँ निवेश करते हैं करते हुए अधिक लाभ हासिल करने के अवसर के रूप में इस्तेमाल किया। यह जनता और अमेज़ॅन के लिए एक जीत की स्थिति थी।

रेटिंग: 4.16
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 103